Pages

Sunday, February 5, 2012

प्रदेश में बढ़ेंगे स्कूल लेक्चरर के पद

शिक्षा विभाग ने प्रदेश के स्कूलों में लेक्चरर के बेड़े को साढे़ 12 हजार से बढ़ा कर 32 हजार से अधिक करने का निर्णय लिया है। इस निर्णय के तहत प्रदेश में जल्द ही साढे़ नौ हजार से अधिक नए लेक्चरर की सीधी भर्ती की जाएगी।अन्य लेक्चरर की पूर्ति पदोन्नति के माध्यम से होगी। शिक्षा विभाग ने प्रदेश में शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए 1 अप्रैल से नई शिक्षा नीति लागू करने का निर्णय लिया है। नई शिक्षा नीति के तहत अब 9वीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को लेक्चरर पढ़ाएंगे। वहीं छठी से आठवीं तक के बच्चों को मास्टर व पहली से पाचवीं तक के बच्चों कोजेबीटी शिक्षक पढ़ाएंगे। इस संबंध में अतिरिक्त शिक्षा निदेशक सतबीर सैनी ने बताया कि लेक्चरर्स की भर्ती के लिए शिक्षक चयन बोर्ड का गठन किया गया है। एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि साढ़े नौ हजार नए लेक्चरर की भर्ती की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। नई नियुक्ति के लिए शिक्षा विभाग ने वित्त विभाग को लिखा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 13 सौ से अधिक हाई स्कूलों को अपग्रेड कर सीनियर सेकेंडरी स्कूल बनाने की योजना है। इसके लिए काफी संख्या में लेक्चरर की आवश्कता होगी।
Source: Dainik Jagran {05/02/2011}