Pages

Friday, June 29, 2012

आइआइटी के लिए 12वीं में एक और मौका

नई दिल्ली : आइआइटी में एक ही संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई-एडवांस) के जरिए दाखिले के फार्मूले पर सहमति के बाद छात्रों को किसी नुकसान से बचाने की कोशिशें शुरू हो गई हैं। जो छात्र इस साल आइआइटी की संयुक्त प्रवेश परीक्षा में बैठ चुके हैं और पास नहीं हुए हैं, उन्हें टॉप 20 परसेंटाइल के मानक को हासिल करने के लिए अगले साल इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में बैठने का एक और मौका मिलेगा। जबकि, केंद्र सरकार ने नए फार्मूले पर राज्यों से उनकी राय लेने की कोशिश शुरू कर दी है। आइआइटी में प्रवेश परीक्षा के लिए छात्रों को अभी दो मौके मिलते हैं। जो छात्र इस साल जेईई में बैठने के बाद भी दाखिले से वंचित रह गए हैं, उन्हें 2013 में एक मौका और मिलना चाहिए। लिहाजा नए फार्मूले के तहत बोर्ड मेंटॉप 20 परसेंटाइल हासिल करनेके लिए उन्हें इंटरमीडिएट परीक्षा में बैठने का एक मौकाऔर दिया जाएगा। बृहस्पतिवार को राज्य स्कूल शिक्षा बोर्ड की काउंसिल की बैठक ने इसकी मंजूरी दे दी। काउंसिल ने तय किया है कि सभी राज्य स्कूल शिक्षा बोर्ड अगले साल हर हालमें 10 जून तक अपने नतीजे घोषित कर देंगे।