Pages

Saturday, February 1, 2014

अध्यापक पात्रता परीक्षा में पुरुषों से दोगुनी महिलाएं

भविष्य में गुरू जी को गुरू माताएं पछाड़ने की तैयारी में है। भले ही हरियाणा में लिंगानुपात की स्थिति बड़ी खराब है, लेकिन शकुन की बात यह है कि गुरू माताओं ने खुलकर बाहर आना शुरू कर दिया है। यह कोई भाषण नहीं है, बल्कि हरियाणा पात्रता परीक्षा के आंकड़ों का विश्लेषण करे तो सही साबित होती है। इस बार एचटेट में कुल 3 लाख 82 हजार 679 उम्मीदवार बैठ रहे है। इनमें से 2लाख 50 हजार 188 महिलाएं है, जबकि केवल 1 लाख 32 हजार 491 पुरुष इस परीक्षा में बैठ रहे है। महिलाओं की संख्या पुरुषों के मुकाबले दोगुना से अधिक है। जाहिर है कि इस टेस्ट में पास होने की स्थिति भी कमोवेश इसी अनुपात में होगी। यह है जिलावार स्थिति लेवल -1 जिला पुरुष महिलाएं अंबाला 715 1447 भिवानी 5216 7277 फरीदाबाद-747 2453 फतेहाबाद 1702 2019 गुड़गांव -1050 4229 हिसार -4340 5603 झज्जर 2188 6398 जींद 3769 5123 करनाल 1413 2431 कैथल 2347 2371 कुरुक्षेत्र 1163 1870 महेन्द्रगढ़-2276 3266 पंचकूला-317 814 पानीपत 1113 2452 रेवाड़ी 1742 3707 रोहतक 1928 5582 सिरसा 2642 2751 सोनीपत 3915 8368 यमुनानगर 1232 1918 मेवात 1535 837 पलवल 2313 2659 दूसरे राज्य-1750-4431