Pages

Wednesday, May 28, 2014

जेबीटी टीचरों की अंगूठा जांच में प्रदेश सरकार ने मांगा समय

चंडीगढ़ : 2011 में नियुक्ति पाने वाले जेबीटी टीचरों की सीएसएफएल जांच रिपोर्ट हरियाणा सरकार मंगलवार को हाई कोर्ट में दायर नहीं कर सकी। मंगलवार को मौलिक शिक्षा विभाग के महानिदेशक ने हाई कोर्ट में जवाब दायर कर कहा कि चुनाव में डयूटी के कारण वो समय पर रिपोर्ट दायर करने के लिए कुछ समय दिया जाए। उन्होने बेंच को बताया कि 4 जून को सभी उम्मीदवार को बुलाया गया है और उनकी जांच होगी। बेंच ने मौलिक शिक्षा विभाग के महानिदेशक को आदेश दिया कि 5 अगस्त तक पूर्ण जांच कर बेंच को रिपोर्ट दे या स्वयं बैंच के सामने पेश होकर जवाब दे। 1मामले में पिछली सुनवाई पर बेंच को जो स्टेटस रिपोर्ट दी गई थी उसके अनुसार सीएसएफएल जांच में केवल 1101 टीचर ऐसे हैं, जिनके अध्यापक पात्रता परीक्षा के आवेदन फार्म व उत्तर पुस्तिका पर अंगूठे के निशान एक मिले। बाकी 7150 टीचर ऐसे हैं जिनके अंगूठे के निशान नहीं मिल रहे। इससे साबित होता है कि इन टीचरों की अध्यापक पात्रता परीक्षा पास करना संदेह के दायरे में है।