Pages

Wednesday, June 25, 2014

महिलाओं को मिल सकती है इनकम टैक्‍स में ज्‍यादा छूट

नई दिल्ली. सरकार ने 8 जुलाई को रेल बजट और 10 जुलाई को आम बजट पेश करने का फैसला किया है। पीएम मोदी की ओर से कड़े कदम उठाए जाने की बात कहे जाने के बावजूद आम लोगों को कई तरह की रियायत देने की तैयारी है। सूत्रों के मुताबिक, वित्त मंत्री अरुण जेटली वर्ष 2014-15 के आम बजट में नौकरीपेशा महिलाओं को बड़ी राहत दे सकते हैं। मोदी सरकार महिलाओं के इनकम टैक्स से जुड़े स्लैब को बढ़ाने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है। इसके तहत पूर्व में महिलाओं को पुरुषों की तुलना में इनकम टैक्स में ज्यादा छूट मिलने जैसी व्यवस्था फिर से बहाल हो सकती है। 2012-13 के बजट में महिलाओं और पुरुषों, दोनों के लिए टैक्स छूट की सीमा 2 लाख रुपए सालाना कर दी गई थी। महिलाओं और बुजुर्गों को विशेष रियायत सूत्रों के अनुसार, सरकार देश के कर (टैक्स) ढांचे में बदलाव की योजना बना रही है। इसके तहत सरकार पुरुषों की न्यूनतम आयकर छूट (दो लाख रुपए) को बढ़ाकर तीन लाख कर सकती है, वहीं सरकार नौकरीपेशा महिलाओं को खास छूट देने के मूड में है। पुरुषों की तुलना में उनकी न्यूनतम इनकम टैक्स छूट 3.25 से 3.50 लाख रुपए तक की जा सकती है। इतना ही नहीं, सरकार बुजुर्गों को इनकम टैक्स देने में छूट संबंधी उम्र सीमा 65 से घटाकर 60 साल करने के प्रस्ताव पर भी विचार कर रही है। इसके साथ ही सरकार डायरेक्ट टैक्स कोड बिल-2013 के कुछ प्रस्तावों पर भी विचार कर रही है। टैक्सपेयर्स को बड़ी राहत संभव अगले महीने पेश होने वाले बजट में सरकार इनकम टैक्स बचाने के लिए आपको और ज्यादा हथियार दे सकती है। कई जानकारों के मुताबिक, सरकार इनकम टैक्स के सेक्शन 80सी की लिमिट एक लाख रुपए से बढ़ाकर 1.5 लाख रुपए कर सकती है और इसमें इंफ्रा बॉन्ड और हेल्थ इन्श्योरेंस शामिल किए जा सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि 80सी में इंफ्रा बॉन्ड को शामिल किया जा सकता है। साथ ही इंफ्रा बॉन्ड में निवेश 20,000 से बढ़ाकर 30,000 रुपए किया जा सकता है। हेल्थ इन्श्योरेंस को भी 80सी में शामिल किया जा सकता है। हेल्थ इन्श्योरेंस में छूट 15,000 रुपए की सीमा से बढ़ाया जा सकता है।