Pages

Sunday, June 15, 2014

सभी पब्लिक पोस्टों का रिजल्ट अब वेबसाइट पर डालना होगा

चंडीगढ़।हरियाणा लोक सेवा आयोग (एचपीएससी), हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) और हरियाणा स्कूल टीचर सलेक्शन बोर्ड के मार्च-2014 से जारी हुए सभी रिजल्ट अब पूरे ब्यौरे के साथ वेबसाइट पर होंगे। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने एचपीएससी, एसएससी और स्कूल टीचर सलेक्शन बोर्ड को ये निर्देश दिए हैं। हाईकोर्ट के जस्टिस एजी मसीह ने फैसले में कहा कि आरटीआई की धारा-4 के तहत रिजल्ट घोषित करने और वेबसाइट पर रिजल्ट डिसप्ले करने के बाद पब्लिक अथॉरिटी उसका कंप्यूटरीकृत रिकॉर्ड भी मैनटेन करें। अब तक पूरे रिजल्ट की जानकारी न देकर वेबसाइट पर सिर्फ चयनित उम्मीदवारों के रोल नंबर ही दिए जा रहे थे। हाईकोर्ट के ताजा फैसले के बाद अब नौकरी में सलेक्ट हुए और असफल रहे सभी उम्मीदवारों के अंकों के साथ उनकी मेरिट की जानकारी वेबसाइट पर देनी होगी। हाईकोर्ट में दायर दो अलग-अलग याचिकाओं में पोस्ट ग्र्रेजुएट टीचर (कॉमर्स) के रिजल्ट को खारिज करने की मांग की गई थी। याचिकाओं में दलील दी गई कि सिर्फ चयनित उम्मीदवारों के रोल नंबर पब्लिश कर रिजल्ट घोषित कर दिया गया। इसमें न तो मेरिट या अंकों का ब्यौरा दिया गया और न ही सलेक्ट हुए या नाकाम रहे उम्मीदवारों के नाम, उनके अंक, प्रतिशत आदि का ब्यौरा दिया गया। मामले की सुनवाई के दौरान हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने कहा कि वह 15 दिन में पूरा रिजल्ट वेबसाइट पर उपलब्ध करवा देंगे। दूसरी तरफ एचपीएससी ने इसका विरोध करते हुए दलील दी कि उम्मीदवारों की निजी जानकारी को पब्लिक नहीं किया जा सकता। यह किसी की प्राइवेसी में हस्तक्षेप करना होगा। जस्टिस मसीह ने एचपीएससी की इस दलील को खारिज करते हुए फैसले में कहा कि उनके विचार से उम्मीदवारों के अंक सार्वजनिक करना किसी की प्राइवेसी में हस्तक्षेप नहीं है बल्कि इससे उम्मीदवारों के मन में किसी तरह की शंका की कोई गुंजाइश नहीं रहेगी और व्यवस्था में पारदर्शिता आएगी। साथ ही इससे आरटीआई के तहत आने वाली याचिकाओं का भार कम होगा जिससे समय और धन की बचत होगी। > अब तक सिर्फ चयनित उम्मीदवारों के रोल नंबर जारी होते थे > अब नाकाम उम्मीदवारों को भी पूरी मेरिट सूची की जानकारी मिलेगी > आरटीआई के तहत आने वाली याचिकाओं का बोझ कम होगा