Pages

Monday, June 9, 2014

नई सरकार टैक्सपेयर्स को दे सकती है राहत, बढ़ सकती है बचत की सीमा!

मुंबई:क्या नई सरकार टैक्सपेयर्स के लिए राहत का पैगाम ला सकती है? अगर वित्त मंत्री अरुण जेटली फाइनैंशियल मार्केट रेगुलेटर्स की बात मान लें तो ये मुमकिन है. फाइनैंशियल मार्केट रेगुलेटर ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को सुझाव दिया है कि इंडिविजुअल्स और हिंदू अनडिवाइडेड फैमिलीज के लिए इनकम टैक्स की धारा 80C डिडक्शन के तहत एक लाख तक के बचत की जो सीमा है उसे तत्काल बढ़ाया जाए. आपको बता दें कि इनकम टैक्स की धारा 80C के तहत किसी भी टैक्सपेयर को एक लाख से ज्यादा की बचत पर टैक्स छूट नहीं मिली. आरबीआई और दूसरे रेगुलेटर्स का भी कहना है कि सेविंग को बढ़ाने के लिए इस सीमा को बढ़ाने की जरूरत है. बढ़ती महंगाई, कारोबारियों का कम मुनाफा और रियल स्टेट व गोल्ड की तरफ झुकाव के कारण बीते नौ साल में पारंपरिक सेविंग सबसे कम रही है. देश में जहां 2008 में सेविंग दर जेडीपी का 38 फीसदी थी वहीं 2012-13 में ये घटकर 30.1 फीसदी रह गई है. ऐसा इसलिए हुआ है क्योंकि सेविंग के लिए लोगों का सबसे बड़ा सोर्स हाउसहोल्डस रहा है और इसलिए अब इस बात पर ज़ोर दी जा रही है कि 80C डिडक्शन के तहत सेविंग की सीमा बढ़ाई जाए.